EPS 95 पेंशन: NDA सरकार, 7500 रुपये मासिक पेंशन, डीए, चिकित्सा लाभ पर बड़ी खबर

EPS पेंशनभोगियों का मानना है की मोदी जी को सेवानिवृत्त कर्मचारियों के लिए आकर्षक सामाजिक कल्याण पेंशन योजनाएं लानी चाहिए, जिससे उन्हें 7500 रुपये मासिक पेंशन, डीए, चिकित्सा लाभ मिल सके

rohit

Written by Rohit Kumar

Published on

EPS 95 पेंशन: देश भर में कर्मचारी पेंशन स्कीम 1995 के पेंशन भोगी जो न्यूनतम पेंशन 7500 रुपये और महंगाई भत्ते की मांग पर आंदोलन कर रहे हैं, एक पेंशनभोग गौतम चक्रवर्ती ने यह भी पोस्ट किया है की भाजपा सरकार अपने सहयोगी टीडीपी और जेडीयू पर निर्भर हैं और प्रमुख गठबंधन सहयोगियों से रियायतें प्राप्त करने में माहिर है।

महाराष्ट्र और हरियाणा में भाजपा का प्रदर्शन फीका रहा है, इसपर कमांडर सर और एनएसी के शीर्ष अधिकारी भाजपा की चुनावी जीत का फायदा उठा सकते हैं। वहीं मथुरा से फिर से निर्वाचित हेमा मालिनी और नीतीश कुमार के साथ-साथ चंद्रबाबू नायडू के माध्यम से पीएम से तीसरी अपील की जा सकती है।

ईपीएस 95 पेंशन: NDA सरकार, 7500 रुपये मासिक पेंशन, डीए, चिकित्सा लाभ पर बड़ी खबर

पेंशनभोगियों की अपील

हमारे व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

EPS पेंशनभोगियों का मानना है की मोदी जी को सेवानिवृत्त कर्मचारियों के लिए आकर्षक सामाजिक कल्याण पेंशन योजनाएं लानी चाहिए, जिससे उन्हें 7500 रुपये मासिक पेंशन, डीए, चिकित्सा लाभ मिल सके और इसमें आने वाली गिरावट को रोका जा सके। आगे पेंशनभोगियों ने यह भी कहा की मोदी सरकार ने केवल हमारी मांगो को नजरंदाज किया है बल्कि अपने वादों को भी पूरा नहीं किया। जिसके खिलाफ हमारी एकजुटता उन्हें हमारी मांगो को पूरा करने के लिए अवश्य विवश करेगी।

Latest Newsखुशखबरी, सभी पेन्शनभोगी ध्यान दें, सिनियर सिटीजन/पेंशनधारकों को शानदार तोहफा, एक साथ मिले कई बड़े तोहफे,

खुशखबरी, सभी पेन्शनभोगी ध्यान दें, सिनियर सिटीजन/पेंशनधारकों को शानदार तोहफा, एक साथ मिले कई बड़े तोहफे

कब आएगा सरकार का फैसला

इस मामले पर पेंशनभोगियों ने यह भी कहा की यदि न्यूनतम वेतन 7500 प्लस महंगाई भत्ते के साथ-साथ अन्य चिकित्सा लाभों की मांग को और गंभीरता से किया जाता तो सरकार गठन के बाद पेश किए जाने वाले सभी बजट में हमें एक अच्छी खबर की उम्मीद कर सकते हैं। यदि ऐसा नहीं हुआ तो आने वाले विधानसभा चुनावों में हम 5000 रुपये और महंगाई भत्ता की अंतरिम राहत के लिए हमारी अपील को खारिज करने को याद करते सुनिश्चित करेंगे की इसे सरकार की और से खारिज कर दिया जाए। ऐसे में सरकार इस मामले को लेकर क्या फैसला सुनाती है यह आने वाला समय ही बताएगा।

Latest News8th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, नई सरकार बनते ही मिलेगा बड़ा सरप्राइज!

8th Pay Commission: केंद्रीय कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, नई सरकार बनते ही मिलेगा बड़ा सरप्राइज!

13 thoughts on “EPS 95 पेंशन: NDA सरकार, 7500 रुपये मासिक पेंशन, डीए, चिकित्सा लाभ पर बड़ी खबर”

  1. केंद्र सरकारने आता पावे तो सेवानिवृत्त गरीब कामगारांना केवळ आश्वासनावर झुलत ठेवले आहे आणि म्हणून त्यांच्या आशीर्वादाने शापाने भाजपला पूर्ण बहुमत प्राप्त झाले नाही आता तरी नेत्यांनी यापासून बोध घेतला पाहिजे अन्यथा येणाऱ्या विधानसभा निवडणुकीत हे कर्मचारी विरोधी पक्षात निश्चितपणाने मदत करतील

    प्रतिक्रिया
  2. The Govt. at the centre should note that it suffered debacle in recent Loksabha election because of sighs & curse of these old & infirm Pensioners numbering almost 78 lakhs in the country since it played a crude hoax on these hapless pensioners by not conceding their demand of minimum liveable pension inspite of promises given to National Agitation Committee, Commander Ashok Ravatji, the Convenor, inspite of many promises given during last ten years of its rule. Now it’s time for BHAJAP Party to consider demand of EPS’95 Pensioners lest it doesn’t get decimated in the ensuing Assembly
    elections in Maharashtra & Haryana. Hence, the sooner it concentrates on our demands the better for it.

    प्रतिक्रिया
  3. The Epfo pensioners should not expect anything favourable from the modi govt as it is itself giving shelter to the mischievous Epfo who are deliberately denying higher pension to employees retired prior to 1-9-2014 by imposing para no 44 (5) of judgement of Sc wrongly & unlawfully .where as the para in question relates exclusively for employees on the roll as on 1-9-2014 as Catagorecally specified in para no 44 (1)of judgement of Sc. Epfo deliberately misleading to courts as well as to the concerned ministry that is why Epfo honoured it’s higher officers by giving out of turn promotion for making mischievous efforts to deny higher pension to employees by wrongly imposing para no 44 (5) & not implementing para no 44 (9) of the order of the sc with in eight weeks in right prospecive.This is all being done under the leadership of modi govt. We all poor retirees are at the mercy of God & should not expect anything from the deaf & dumb Govt who is insulting the senior citizens of this country by giving merely Rs 1000-pension whereas they themselves are drawing more than one pensions from govt exchequer & revise their salary & parks many time without any checks.

    प्रतिक्रिया
  4. आदरणीय मोदी जी,

    आपकी टैग लाइन सबका साथ, सबका विश्वास और सबका विकास है। मुझे इस नारे में सबका साथ सबका विश्वास तो ठीक लेकिन सबका विकास जिसमें EPF-95 के पेंशनर्श शामिल हैं नही दिखाई पड़ता। क्या यह देश के नागरिक नहीं हैं।

    35-40 वर्षों की देश सेवा के बाद आज 1000-1200 रूपयें में कैसे जीवन के अंतिम दिन गुजार रहें हैं यह कोई उनसे पूछें। आपके पीछले कार्यकाल में हम सब आपकी ओर आशा भरी नजरों से देखते रहे पर आपने हम लोगों की सुध नही ली। इसके बाद भी हम सभी ने आपको अपना मत दिया।

    कृपया NDA 3.0 कार्यकाल के प्रारम्भ में EPF-95 के पेंशनर्श की ओर भी दया दृष्टि डालने की कृपा करें, जिससे उनके जीवन के अंतिम दिन आराम से गुजर सकें।

    धन्यवाद।

    प्रतिक्रिया

Leave a Comment

हमारे Whatsaap चैनल से जुड़ें