PPF Interest Rate: PPF पर मिलेगा 12% का इंटरेस्ट? तीसरी बार …7.1% से 12% हो सकती है ब्याज दर?

PPF पर अभी 7.1% का ब्याज मिल रहा है। लोग उम्मीद कर रहे हैं कि ब्याज दर बढ़कर 12% हो जाएगी, जैसे पहले थी। अगर ऐसा होता है, तो यह निवेशकों के लिए बड़ी खुशी की बात होगी।

rohit

Written by Rohit Kumar

Published on

PPF Interest Rate: 7.1% से 12% हो सकती है ब्याज दर?

पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (PPF) पर अभी 7.1% का ब्याज मिल रहा है। सरकार हर तिमाही में छोटी बचत योजनाओं का इंटरेस्ट रेट तय करती है। जून के अंत में फिर से यह दर तय (PPF Interest Rate) होगी। लोगों की उम्मीद है कि इस बार ब्याज दर बढ़ेगी, खासकर अब जब मोदी सरकार तीसरी बार सत्ता में है।

क्या पीएम मोदी PPF पर ब्याज दर 7.1% से बढ़ाकर 12% कर सकते हैं? आइए, जानते हैं PPF के इतिहास और वर्तमान स्थिति के बारे में।

PPF ब्याज दर का इतिहास (PPF Interest Rate)

हमारे व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

पीपीएफ की शुरुआत 1968 में हुई थी। तब ब्याज दर मात्र 4.8% थी और अधिकतम निवेश सीमा 15,000 रुपये थी। 1970 से 1973 के बीच यह ब्याज दर 5% कर दी गई थी।

पीपीएफ की ब्याज दरें समय-समय पर बदली हैं। आइए, एक नजर डालते हैं इसके इतिहास पर:

पीरियडइंटरेस्ट रेटनिवेश की लिमिट
01.04.1968 से 31.03.19694.8015000
01.04.1969 से 31.03.19704.8015000
01.04.1970 से 31.03.1971515000
01.04.1971 से 31.03.1972515000
01.04.1972 से 31.03.1973520000
01.04.1973 से 31.03.19745.3020000
01.04.1974 से 31.07.19745.8020000
01.08.1974 से 31.03.1975720000
01.04.1975 से 31.03.1976720000
01.04.1976 से 31.03.1977720000
01.04.1977 से 31.03.19787.5020000
01.04.1978 से 31.03.19797.5030000
01.04.1979 से 31.03.19807.5030000
01.04.1980 से 31.03.1981830000
01.04.1981 से 31.03.19828.5030000
01.04.1982 से 31.03.19838.5040000
01.04.1983 से 31.03.1984940000
01.04.1984 से 31.03.19859.5040000
01.04.1985 से 31.03.19861040000
01.04.1986 से 31.03.19881240000
01.04.1988 से 31.03.19991260000
01.04.1999 से 14.01.20001260000
15.01.2000 से 28.02.20011160000
01.03.2001 से 28.02.20029.5060000
01.03.2002 से 31.03.20029.0060000
01.04.2002 से 28.02.2003970000
01.03.2003 से 31.03.2011870000
01.04.2011 से 30.11.20118100000
01.12.2011 से 31.03.20128.60100000
01.04.2012 से 31.03.20138.80100000
01.04.2013 से 31.03.20148.70100000
01.04.2014 से 31.03.20168.70150000
01.04.2016 से 30.09.20168.10150000
01.10.2016 से 31.03.20178150000
01.04.2017 से 30.06.20177.90150000
01.07.2017 से 30.09.20177.80150000
01.01.2018 से 30.09.20187.60150000
01.10.2018 से 30.06.20198.00150000
01.07.2019 से 31.03.20207.90150000
01.04.2020 से 30.09.20207.10150000
01.10.2022 से 31.12.20227.10150000
01.01.2023 से 31.03.20237.10150000
1.04.2023 से अभी तक7.10150000

PPF की मौजूदा स्थिति

पिछले 10 सालों में पीपीएफ की ब्याज दर 7.1% से 8.8% के बीच रही है। 2014 में सरकार ने पीपीएफ में निवेश की सीमा 1 लाख रुपये से बढ़ाकर 1.5 लाख रुपये कर दी।

Latest NewsGratuity Nomination: सरकारी कर्मचारी Gratuity के लिए नॉमिनी किसको बना सकता है, जानिये क्या है नियम और शर्त

Gratuity Nomination: सरकारी कर्मचारी Gratuity के लिए नॉमिनी किसको बना सकता है, जानिये क्या है नियम और शर्त

क्या बढ़ सकती है ब्याज दर?

लोगों की मांग है कि पीपीएफ की ब्याज दर बढ़ाई जाए। इसके कई कारण हैं, पहला की बढ़ती महंगाई के चलते निवेशकों को अधिक रिटर्न की आवश्यकता है। दूसरा की PPF एक लंबी अवधि का निवेश है, इसलिए अधिक ब्याज दर निवेशकों को आकर्षित करेगी। इसके साथ ही मोदी सरकार के द्वारा छोटे निवेशकों को प्रोत्साहित करने के लिए यह कदम उठाया जा सकता है।

PPF में निवेश से पहले इन बातों का रखें ख्याल

अगर आप PPF में निवेश करना चाहते हैं, तो निम्नलिखित बातों का ध्यान रखें:

  • नियमित जमा: हर साल कम से कम 500 रुपये जमा करना अनिवार्य है।
  • लंबी अवधि: PPF का लॉक-इन पीरियड 15 साल का होता है।
  • कर लाभ: PPF पर मिलने वाले ब्याज और मैच्योरिटी राशि कर-मुक्त होती है।

पीपीएफ एक सुरक्षित और लाभदायक निवेश है, खासकर उनके लिए जो लंबी अवधि के लिए निवेश करना चाहते हैं। अगर ब्याज दर 12% हो जाती है, तो यह और भी आकर्षक हो जाएगा।

Latest Newsवित्त मंत्री का बड़ा ऐलान, वरिष्ठ नागरिकों और पेंशनभोगियों को बजट से मिलेंगे 5 बड़े तोहफे

Budget 2024: वित्त मंत्री का बड़ा ऐलान, वरिष्ठ नागरिकों और पेंशनभोगियों को आगामी बजट से मिलेंगे 5 बड़े तोहफे

7 thoughts on “PPF Interest Rate: PPF पर मिलेगा 12% का इंटरेस्ट? तीसरी बार …7.1% से 12% हो सकती है ब्याज दर?”

  1. Many Banks are proving more interset rate on many short term schemes and people are looking more reasons to invest in the short time schemes ..if the interset rate of ppf increased then only pemore people can think to invest because competition in every field is on the top this time due to less saving and expensive every thing

    प्रतिक्रिया

Leave a Comment

हमारे Whatsaap चैनल से जुड़ें