EPS News: अब हर महीने मिलेगी 7000 से ज्यादा पेंशन, कर्मचारियों की चमकी किस्मत

अगर आप प्राइवेट नौकरी में हैं और आपका पीएफ कटता है, तो EPFO की EPS योजना आपके लिए है। इससे आपको हर महीने पेंशन मिलेगी। EPS के तहत पेंशन प्राप्त करने के लिए कम से कम 10 साल की नौकरी और 58 साल की उम्र जरूरी है। पेंशन की गणना कर्मचारी की औसत सैलरी और सेवा के वर्षों के आधार पर होती है। अधिकतम पेंशन ₹7500 और न्यूनतम ₹1000 प्रति महीना है।

rohit

Written by Rohit Kumar

Published on

EPS News: अब हर महीने मिलेगी 7000 से ज्यादा पेंशन, कर्मचारियों की चमकी किस्मत

क्या आपको पता है कि EPFO (Employees’ Provident Fund Organisation) के तहत हर महीने पेंशन का लाभ मिल सकता है? यदि आप किसी प्राइवेट संस्था में नौकरी करते हैं और आपका पीएफ (Provident Fund) कट रहा है, तो चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। EPFO ने पीएफ कर्मचारियों के लिए एक विशेष योजना EPS (Employees’ Pension Scheme) चलाई है, जिससे आपको हर महीने पेंशन मिलने का प्रावधान है।

यह भी देखें: EPF Claim Status Payment Under Process कितने दिन लगते हैं? क्या करें

EPS योजना: आपके बुढ़ापे का सहारा

हमारे व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

EPS योजना के तहत, आपके बुढ़ापे के लिए आर्थिक सुरक्षा सुनिश्चित की जाती है। रिटायरमेंट के बाद आपको हर महीने पेंशन मिलेगी, जिससे आप आत्मनिर्भर बन सकेंगे और किसी पर निर्भर रहने की जरूरत नहीं पड़ेगी। लेकिन पेंशन प्राप्त करने के लिए आपको मौजूदा नियमों की जानकारी होना आवश्यक है, जिससे सभी कंफ्यूजन समाप्त हो जाएंगे।

EPS से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें

यदि आप पीएफ कर्मचारी हैं और EPS योजना का लाभ लेना चाहते हैं, तो आपको निम्नलिखित महत्वपूर्ण बातें जाननी होंगी:

  1. मिनिमम वेतन: EPS के लिए आपका मासिक वेतन कम से कम ₹15,000 होना चाहिए।
  2. सेवा की अवधि: अधिकतम पेंशन के लिए 35 साल की सेवा आवश्यक है।
  3. पेंशन की पात्रता: 58 वर्ष की उम्र के बाद आप पेंशन के हकदार हो जाते हैं।
  4. न्यूनतम सेवा: पेंशन पाने के लिए कम से कम 10 साल की नियमित नौकरी आवश्यक है।
  5. पेंशन की उम्र: आप 50 वर्ष की उम्र के बाद भी पेंशन प्राप्त कर सकते हैं, लेकिन पहले पेंशन लेने पर पेंशन की राशि घट जाती है।
  6. फॉर्म 10D: पेंशन प्राप्त करने के लिए फॉर्म 10D भरना आवश्यक है।
  7. परिवार को पेंशन: कर्मचारी की मृत्यु के बाद परिवार को पेंशन का लाभ मिलता है।

पेंशन की कैलकुलेशन का फार्मूला

आपकी पेंशन कितनी होगी, यह जानने के लिए एक सरल फार्मूला है:

Latest Newsसरकार का पेंशनधारकों को तोहफा, पेन्शनभोगी ऐसे बढ़वाये अपनी पेंशन और लाखों रुपए का Arrear लें

सरकार का पेंशनधारकों को तोहफा, पेन्शनभोगी ऐसे बढ़वाये अपनी पेंशन और लाखों रुपए का Arrear लें

  • औसत सैलरी × पेंशनेबल सेवा ÷ 70

यहां औसत सैलरी का मतलब बेसिक सैलरी और डीए (Dearness Allowance) से है, जो पिछले 12 महीनों की सैलरी के आधार पर निकाली जाती है। अधिकतम पेंशनेबल सेवा 35 साल होनी चाहिए।

उदाहरण के लिए, यदि आपकी औसत मासिक सैलरी ₹15,000 है और आपने 35 साल की सेवा की है, तो आपकी पेंशन होगी:

  • 115000×35÷70=₹7500 प्रति महीना

न्यूनतम और अधिकतम पेंशन

  • न्यूनतम पेंशन: ₹1000 प्रति महीना
  • अधिकतम पेंशन: ₹7500 प्रति महीना

EPFO की EPS योजना पीएफ कर्मचारियों के लिए एक सुनहरा अवसर है, जो बुढ़ापे में आर्थिक सुरक्षा प्रदान करता है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए, सभी आवश्यक नियमों और शर्तों की जानकारी प्राप्त करें और सुनिश्चित करें कि आप समय पर आवश्यक दस्तावेज जमा करें। इससे आप अपनी पेंशन की राशि को सही से कैलकुलेट कर सकते हैं और एक सुरक्षित भविष्य की योजना बना सकते हैं।

Latest NewsDA News: जुलाई से महंगाई भत्ते की वृद्धि घटने के आसार, सरकारी कर्मचारियों में निराशा

DA News: जुलाई से महंगाई भत्ते की वृद्धि घटने के आसार, सरकारी कर्मचारियों में निराशा

1 thought on “EPS News: अब हर महीने मिलेगी 7000 से ज्यादा पेंशन, कर्मचारियों की चमकी किस्मत”

Leave a Comment

हमारे Whatsaap चैनल से जुड़ें