गुड न्यूज 90 हजार अस्थाई कर्मचारियों को मिलेगा EPF का फायदा

झारखंड सरकार के अंतर्गत राज्य के अस्थाई कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी सामने आई है। बता दें राज्य सरकार के विभिन्न सरकारी विभागों, सार्वजनिक उपक्रमों

rohit

Written by Rohit Kumar

Published on

झारखंड सरकार के अंतर्गत राज्य के अस्थाई कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी सामने आई है। बता दें राज्य सरकार के विभिन्न सरकारी विभागों, सार्वजनिक उपक्रमों एवं अन्य सरकारी निकायों के सभी संविदा, आकस्मिक, दैनिक वेतन एवं आउटसोर्स एजेंसियों के माध्यम से कार्यरत 90 हजार कर्मचारियों को ईपीएफ का लाभ मिलेगा।

इसके लिए मुख्य सचिव एल खियांगते ने राज्य के सभी अपर मुख्य सचिव, प्रधान सचिव, सचिव, प्रमंडलीय आयुक्त एवं उपायुक्तों को कर्मचारी भविष्य निधि एवं विविध प्रावधान अधिनियम 1952 के तहत उक्त सभी अस्थाई कर्मचारियों ताक लाभ विस्तारित करने के भी निर्देश दिए हैं।

good news for temporary employees 90 thousand will get epf benefit
good news for temporary employees 90 thousand will get epf benefit

90 हजार अस्थाई कर्मचारियों को मिलेगा लाभ

हमारे व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

बता दें, भारत सरकार की तरफ से वर्ष 2017-18 में जारी निर्देश के आलोक में 15,000 रूपये या इससे कम के मानदेय वाले उक्त स्थाई कर्मियों को कर्मचारी भविष्य निधि का लाभ दिया जा रहा है। जबकि 15,000 से अधिक मानदेय पाने वाले अस्थाई कर्मचारी इस लाभ से वंचित रह गए थे। मुख्य सचिव द्वारा जारी निर्देश के बाद राज्य के लगभग 90 हजार अनुमानित कर्मचारियों को इसका लाभ मिल सकेगा। इस सुविधा को सभी जिलों में लागू करने के बाद लाभुक कर्मियों की संख्या पहले से और भी अधिक बढ़ सकती है।

पांच हजार NHM कर्मी ले रहे हैं लाभ

नेशनल हेल्थ एम्प्लॉयी (NHM), झारखंड के तहत संविदा पर लगभग 12 हजार कर्मी हैं, इनमे से लगभग 5000 कर्मी जिनका मानदेय 15 हजार रूपये तक था, उन्हे लाभ दिया जा रहा है। वहीं इनमे बाकी 7000 कर्मी जिनकी आय 15000 से अधिक हैं उन्हे इसका लाभ नही दिया गया है। जबकि शिक्षा विभाग में 60 हजार अस्थाई कर्मी ऐसे हैं जो 15 हजार से अधिक आय प्राप्त कर रहे हैं, इन्हें भी लाभ मिलेगा।

Latest NewsForgot UAN: मोबाइल से UAN नंबर कैसे पता करें

Forgot UAN 2024: मोबाइल से UAN नंबर कैसे पता करें

हालांकि जिन प्रतिष्ठानों में 20 से अधिक कर्मी कार्यरत हैं, उन सभी प्रतिष्ठानों पर यह अधिनियम लागू होते हैं। अधिनियम अस्थाई कर्मियों और नियमित कर्मियों के बीच अंतर नही करता है, सरकारी और सार्वजनिक उपक्रमों द्वारा नियुक्त सभी कर्मचारी माने जाते हैं।

भविष्य निधि आयुक्त से एनएचएम एमडी ने मांगा मंतव्य

एनएचएम के प्रबंध निदेशक आलोक त्रिवेदी ने एनएचएम के तहत कार्यरत कर्मियों को इसका लाभ देने के लिए भविष्य निधि आयुक्त से मंतव्य मांगा है। एनएचएम के अनुसार अनुबंध पर कार्य कर रहे सभी कर्मी जिनका मानदेय 15 हजार रुपये से अधिक है उन्हे भी कर्मचारी भविष्य निधि का लाभ मिलना चाहिए, क्योंकि वर्तमान में उन्हे भविष्य निधि का लाभ नही मिल रहा है।

Latest NewsPF Withdrawal - 5 आसान स्टेप्स में PF Withdrawal करें

PF Withdrawal: 5 आसान स्टेप्स में PF Withdrawal करें

Leave a Comment

हमारे Whatsaap चैनल से जुड़ें