EPF – Employees’ Provident Fund – कर्मचारी भविष्य निधि

किसी भी नागरिक द्वारा अपने उज्ज्वल भविष्य के लिए वर्तमान में कुछ वित्तीय बचत की जाती है। जिस से नागरिक अधिक उम्र होने पर भी

rohit

Written by Rohit Kumar

Published on

किसी भी नागरिक द्वारा अपने उज्ज्वल भविष्य के लिए वर्तमान में कुछ वित्तीय बचत की जाती है। जिस से नागरिक अधिक उम्र होने पर भी सुविधाजनक आसान जीवनयापन कर सकता है। ऐसे ही नौकरी करने वाले कर्मचारियों के भविष्य के लिए उन्हें EPF (Employees’ Provident Fund) प्रदान किया जाता है। इस आर्टिकल में हम आपको EPF से संबंधित जानकारी प्रदान करेंगे। जिस से आप इसके लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

EPF क्या है?

Employees Provident Fund Organization (EPFO) केंद्र सरकार के श्रम एवं रोजगार मंत्रालय द्वारा संचालित महत्वपूर्ण संगठन है। इस संगठन के द्वारा ही कर्मचारी भविष्य निधि एवं विविध अधिनियम 1952 के अंतर्गत EPF योजना को चलाया जाता है। किसी भी कर्मचारी के लिए EPF हेतु कुछ पात्रताएं होती हैं, जिन्हें पूरा करने पर ही कर्मचारी को EPF प्रदान किया जाता है। EPF कर्मचारी के मासिक वेतन का एक छोटा सा भाग होता है, साथ ही EPF खाते में कर्मचारी जिस विभाग/कंपनी में कार्य करता है वह भी उतनी ही राशि EPF में प्रदान करता है। इस जमा राशि पर सरकार द्वारा निर्धारित ब्याज भी नागरिक को प्राप्त होता है।

EPF - Employees' Provident Fund
EPF – Employees’ Provident Fund

EPFO- Employees Provident Fund Organization

हमारे व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

EPFO संगठन की स्थापना 1952 मे हुई थी। इसके द्वारा ही कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) योजना का संचालन किया जाता है। यह संगठन भारतीय श्रमिकों एवं अंतर्राष्ट्रीय श्रमिकों (उन देशों के श्रमिक जो EPFO के साथ लिंक हैं) को भविष्य निधि की सुविधा प्रदान करता है। EPFO पोर्टल पर सुविधाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए कर्मचारी के पास UAN (Universal Account Number) का होना आवश्यक होता है। यह संगठन मुख्य रुप से तीन प्रकार की योजनाओं को कर्मचारियों को प्रदान करता है:

  • EPF
  • EPS (Employees’ Pension Scheme)
  • EDLI (Employees’ Deposit Linked Insurance Scheme)

EPF नियम

EPF से संबंधित नियम एवं पात्रताएं इस प्रकार हैं:

  • भारत सरकार के नियमों के अनुसार 20 से अधिक कर्मचारियों वाले संगठनों को EPF योजना के लिए पंजीकरण करना अनिवार्य होता है।
  • वे संगठन जिनमें 20 से कम कर्मचारी कार्य करते हैं वे भी EPF योजना में स्वेच्छा से पंजीकरण कर सकते हैं।
  • 15,000 रुपये मासिक वेतन से कम वेतन प्राप्त करने वाले कर्मचारी के लिए EPF का पंजीकरण करना अनिवार्य होता है।
  • वे कर्मचारी जिनका मासिक वेतन 15,000 रुपये से अधिक होता है वे भी EPF अकाउंट का पंजीकरण कर सकते हैं, उन्हें इसके लिए Assistant PF Commissioner से Approval की आवश्यकता होती है।
  • सम्पूर्ण भारत देश में ( जम्मू एवं कश्मीर को छोड़कर) EPF कर्मचारियों को प्रदान कर उन्हें लाभ दिया जाता है।

EPF में अंशदान एवं ब्याज

कर्मचारी को EPF प्रदान करने में इस प्रकार विभाग/कंपनी द्वारा अंशदान प्रदान किया जाता है:

श्रेणी (शुल्क का प्रकार)अंशदान %
Employees’ Pension Scheme (EPS)8.33
EPF3.67
EDLI0.5
EDLIS Admin शुल्क0.01
EDLI Admin शुल्क1.10
कुल 12

वर्तमान वित्तीय वर्ष के अनुसार EPF पर सरकार द्वारा 8.15% ब्याज प्रदान किया जाता है।

EPF फॉर्म

Types of Formउद्देश्यविवरण
Form 10 Cपेंशन WithdrawalEPS (Employees’ Pension Scheme) में पेंशन Withdrawal के लिए
Form10 Dमासिक पेंशनरिटायर्ड होने के बाद मासिक पेंशन Withdrawal करने के लिए
Form 11स्वघोषणा (Self-Declaration)नौकरी बदलते समय कर्मचारी द्वारा विवरण देने के लिए
Form 13EPF अकाउंट ट्रांसफरनौकरी बदलते समय नई कंपनी में लगने पर EPF ट्रांसफर के लिए
Form 19EPF Withdrawalनौकरी छूटने के बाद EPF Withdrawal के लिए
Form20मृत्यु होने पर claimकर्मचारी की मृत्यु हो जाने पर EPF Withdrawal के लिए
Form 31EPF LoanEPF अकाउंट से लोन के लिए
Form 51 FNomination फार्मयह EPF एवं EPS का लाभार्थी बनने के लिए नामांकन फॉर्म है।

EPFO कर्मचारी लॉगिन

EPFO पोर्टल पर कर्मचारी लॉगिन करने के लिए सबसे पहले तो कर्मचारी के UAN नंबर को सक्रिय करना होता है, जिसके लिए नागरिक पोर्टल में जा कर Activate UAN पर जानकारी दर्ज कर UAN को activate कर सकता है। इसके बाद नीचे दी गई प्रक्रिया से आसानी से लॉगिन करें:

  • सबसे पहले EPFO Member Interface की आधिकारिक वेबसाइट में जाएं।
  • अब पोर्टल में MEMBER e-SEWA में अपना UAN नंबर एवं Password दर्ज करें। UAN साइन इन करें
  • Captcha भरें एवं Sign IN पर क्लिक करें। इस प्रकार आप आसानी से EPFO लॉगिन कर पोर्टल पर उपलब्ध सेवाओं का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

EPF पासबुक

EPF से संबंधित जानकारी को प्राप्त करने के लिए कर्मचारी ऑनलाइन पोर्टल की सहायता से आसानी से EPF Passbook देख सकते हैं। EPF पासबुक में कर्मचारी की जानकारी के साथ ही EPF की ट्रांसजेक्शन की जानकारी दी गई होती है। कर्मचारी EPFO पोर्टल में जा कर इसे Print/Download कर सकते है।

EPF balance चेक

EPF balance को कोई भी कर्मचारी मुख्य रूप से निम्न 4 प्रक्रियाओं के माध्यम से चेक कर सकते हैं:

Latest NewsPF Withdraw Through Umang App: उमंग एप से PF कैसे निकाले?

PF Withdraw Through Umang App: उमंग एप से PF कैसे निकाले?

  • EPFO Portal से– आधिकारिक पोर्टल पर UAN नंबर की सहायता से कर्मचारी लॉगिन कर सकते हैं उसके बाद ही कर्मचारी EPF Balance की जानकारी को प्राप्त कर सकते हैं।
  • UMANG मोबाइल App से– EPF से संबंधित अनेक सेवाओं को कर्मचारी UMANG पोर्टल के माध्यम से भी देख सकते हैं। जिनमें कर्मचारी को EPF Balance की जानकारी भी प्रदान की जाती है।
  • SMS द्वारा– कर्मचारी EPFO से लिंक मोबाइल नंबर से यदि कर्मचारी 7738299899 नंबर पर SMS करे तो उसे SMS के माध्यम से ही EPF बैलेंस की जानकारी प्रदान की जाती है।
  • Missed Call करने पर– यदि कर्मचारी अपने UAN पंजीकृत मोबाइल नंबर से 01122901406 नंबर पर मिस्ड कॉल करे तो उसे EPF Balance एवं Statement की जानकारी प्राप्त होती है।

EPF Withdrawal की शर्तें

EPF के Withdrawal की शर्तें सूची के अनुसार हैं:

EPF Withdrawal का कारण विवरण
रिटायर्डमेंट होने पर58 वर्ष के बाद कर्मचारी अपने EPF को पूरा निकाल सकते हैं।
2 महीने बेरोजगार रहने पर2 महीने बेरोजगारी की स्थिति में कर्मचारी पहले महीने 75% तक राशि निकाल सकते हैं एवं दूसरे महीने भी बेरोजगारी होने पर कर्मचारी शेष 25% भी Withdrawal कर सकते हैं।
Medical Emergencyइस स्थिति में नागरिक मासिक वेतन का 6 गुना या ब्याज सहित पूरा EPF (जो कम हो उसे निकाल सकते हैं)
नए घर के निर्माण या खरीदने पर5 साल तक सेवा करने वाले कर्मचारी ही EMF का 90% निकाल सकते हैं।
शिक्षा/शादी के लिए7 साल तक सेवा प्रदान करने वाले कर्मचारी ही EPF राशि का ब्याज सहित 50% निकाल सकते हैं।

EPF के लाभ

  • EPF सरकार के श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के अधीन संचालित होती है। यह सुरक्षित है।
  • EPF के द्वारा कर्मचारी लंबे समय के लिए पैसों की बचत कर सकता है।
  • सरकार द्वारा EPF पर 8.15% का ब्याज प्रदान किया जाता है।
  • EPF मुख्य रूप से पेंशन जैसी ही योजना है, पर आपातकालीन स्थिति में कर्मचारी इसका प्रयोग कर सकते हैं।

EPF से संबंधित प्रश्न एवं उत्तर

क्या Apprentice करने वाले कर्मचारियों को भी EPF प्रदान किया जाता है?

Apprentice करने वाले कर्मचारियों को EPF प्रदान नहीं किया जाता है। जब वह स्थाई कर्मचारी हो जाएं तब ही उन्हें EPF प्रदान किया जाता है।

EPF प्राप्त करने के लिए कैसे संगठनों/कंपनी के कार्य करना होता है?

EPF प्राप्त करने के लिए कर्मचारी को ऐसे संगठन में कार्य करना चाहिए जहां कम से कम 20 कर्मचारी हों एवं वह कंपनी EPFO में पंजीकृत हो।

क्या कोई कर्मचारी अपने EPF से बाहर निकल सकता है?

EPF से बाहर नहीं निकला जा सकता है। यह 15 हजार रुपये कम वेतन प्राप्त करने वाले कर्मचारियों के लिए एक महत्वपूर्ण योजना है।

क्या विदेशी नागरिकों को भी EPF प्रदान किया जाता है?

भारत में कार्य करने वाले उन सभी विदेशी नागरिकों को भी EPF प्रदान किया जाता है जो EPFO के सामंजस्य में हैं।

क्या नौकरी बदलने पर कर्मचारी को नया UAN नंबर प्रदान किया जाता है?

UAN नंबर पोर्टेबल है। यह एक बार जो आपको मिल गया वह बदलता नहीं है। इस से ही सभी EPF अकाउंट लिंक किए जाते हैं।

हेल्पलाइन

EPF से संबंधित किसी सेवा की जानकारी प्राप्त करने के लिए आप हेल्पलाइन नंबर 1800 118 005 पर कॉल करें। EPF भविष्य को सुरक्षित करने के लिए बनाई गई योजना है। इसका लाभ प्राप्त कर कर्मचारी अपने परिवार की आपातकाल में सहायता कर सकता है। EPF से संबंधित शिकायत दर्ज करने के लिए कर्मचारी epfigms.gov.in पोर्टल का प्रयोग कर सकते हैं।

Latest NewsEPF Withdrawal Form 2024 – PF Form कैसे भरें एवं Online Claim प्राप्त करें

EPF Withdrawal Form 2024 – PF Form कैसे भरें एवं Online Claim प्राप्त करें

Leave a Comment

हमारे Whatsaap चैनल से जुड़ें