क्या PPF से रिटायरमेंट के बाद पेंशन के तौर पर मिलेगी मंथली इनकम?

PPF एक सुरक्षित और गारंटीड रिटर्न वाली सेविंग स्कीम है, जिसमें निवेशक 15 साल के बाद मैच्योरिटी पर पेंशन के तौर पर मंथली इनकम प्राप्त कर सकते हैं। टैक्स छूट और फ्री ब्याज का लाभ मिलता है। 40 लाख रुपये के निवेश पर, हर महीने लगभग 46-47 हजार रुपये टैक्स फ्री पेंशन मिल सकती है।

rohit

Written by Rohit Kumar

Published on

भारत की सबसे प्रचलित लोकप्रिय सेविंग स्कीम्स में से एक पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) निवेशकों को सुरक्षित एवं गारंटीड रिटर्न की सुविधा प्रदान करती है। जिसके चलते कई सारे लोग अपनी सेविंग्स इसमें निवेश करते हैं। हालांकि बेहद ही कम लोगों को यह जानकारी होती है की PPF को पेंशन के तौर पर मंथली इनकम के रूप में भी यूज किया जा सकता है। जी हां, PPF के नियम अनुसार, यदि आपके पास PPF में पर्याप्त राशि है, तो आप इसे पेंशन के तौर पर हर महीने एक नियमित आय प्राप्त करने के लिए भी उपयोग में ला सकते हैं।

PPF से रिटायरमेंट के बाद मिल सकती है पेंशन

PPF का मुख्य उद्देश्य छोटे निवेशकों को लाभ पहुंचाना है, ऐसे में यह खासतौर पर उन लोगों के लिए शुरू की गई है, जो सुरक्षित एवं गारंटीड रिटर्न वाली योजनाओं की तलाश में हैं। PPF 15 साल की लॉक-इन अवधि वाला एक लॉन्ग टर्म निवेश है, जिसमें जमा राशि मैच्योरिटी (15 साल) के बाद ही निकली जा सकती है।

हमारे व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

यह अवधि पूरी होने पर इसे 5 साल के लिए और बढ़ाया जा सकता है, हालांकि इमरजेंसी पड़ने पर समय से पहले भी यह विड्रॉल की अनुमति देता है। PPF के अंतर्गत ऐसे ग्राहक जिनके पास पुराने अच्छे से फैंडेड PPF अकाउंट है और जो कामकाजी जीवन के बाद एक नियमित आय चाहते हैं वह पेंशन का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

टैक्स में छूट और फ्री ब्याज का लाभ

इस स्कीम के माध्यम से ग्राहकों को टैक्स छूट का लाभ भी प्रदान किया जाता है, यानी आप जिस भी वर्ष पीपीएफ में निवेश करते हैं उसी वर्ष में आपको धारा 80सी के तहत टैक्स में छूट का लाभ मिलता है। इसके साथ ही निवेश राशि के साथ PPF डिपॉजिट पर अर्जित ब्याज पर भी कोई टैक्स नहीं लगता है। उदाहरण के लिए जब आपके PPF खाते की मैच्योरिटी पूरी हो जाती है और आप इसे पांच साल के लिए योगदान के साथ या बिना योगदान के साथ आगे बढ़ाते हैं तो आपके PPF बैलेंस पर टैक्स-फ्री ब्याज मिलता रहता है।

Latest Newsपुरानी पेंशन पर योगी सरकार का बड़ा फैसला, 60 हजार शिक्षकों को मिलेगा लाभ

Old Pension in UP: योगी सरकार का बड़ा फैसला, 60 हजार शिक्षकों को मिलेगी पुरानी पेंशन, नई पेंशन के मुकाबले अधिक फायदे

बता दें PPF के लिए ब्याज दर हर तिमाही सरकार द्वारा निर्धारित की जाती है, वर्ष 2023-24 की पहली तिमाही के लिए PPF की ब्याज दरें 7.1% है।

पीपीएफ को पेंशन टूल के रूप में कैसे करें उपयोग

जैसा की हमने बताया की यदि आपका PPF में अकाउंट है तो आप PPF से रिटायरमेंट के बाद पेंशन के तौर पर मंथली इनकम प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए यदि आप और आपका जीवनसाथी नियमित रूप से PPF में 15 साल तक पैसा जमा करते हों और मैच्योरिटी पूरे होने तक आप दोनों के अकाउंट में 40 लाख रुपये जमा हो जाते हैं। तो इसका मतलब PPF की वर्तमान 7.1 फीसदी ब्याज दर पर आप PF खाते से सुरक्षित रूप से 7 फीसदी तक यानी हर अकाउंट में 2.8 लाख रुपये और कुल मिलाकर 5.6 लाख रुपये प्रति वर्ष के आखिर में निकासी कर सकते हैं।

इस तरह आप दोनों को मिलाकर प्रतिवर्ष 5.6 लाख रुपये टैक्स फ्री इनकम के रूप में मिलते हैं, वहीं यदि इसे मासिक रूप में देखें तो यह टैक्स फ्री पेंशन के रूप में लगभग प्रतिमाह 46 हजार से 47 हजार होता है। यह विकल्प उन वृद्ध लोगों के लिए बेहद ही अच्छा है जिनके पास एक बड़ा PPF खाता है और उन्हें रिटायरमेट के बाद एक नियमित आय के रूप में पेंशन की आवश्यकता है।

Latest NewsPension Commutation: पेंशन की बिक्री में फायदा या नुकसान, जानें

Pension Commutation: पेंशन की बिक्री में फायदा या नुकसान, जानें

Leave a Comment

हमारे Whatsaap चैनल से जुड़ें