CGHS के सभी लाभार्थियों को शानदार तोहफा, कैशलेस उपचार की सुविधा के साथ अन्य बड़ी सुविधाएं

भोपाल, भुवनेश्वर, पटना, जोधपुर, रायपुर और ऋषिकेश स्थित 6 एम्स में CGHS के सेवारत और पेंशनभोगी लाभार्थियों के लिए कैशलेस उपचार सुविधा शुरू की गई है।

rohit

Written by Rohit Kumar

Published on

CGHS के सभी लाभार्थियों को शानदार तोहफा,  कैशलेस उपचार की सुविधा के साथ अन्य बड़ी सुविधाएं
CGHS के सभी लाभार्थियों को शानदार तोहफा, कैशलेस उपचार की सुविधा के साथ अन्य बड़ी सुविधाएं

भोपाल, भुवनेश्वर, पटना, जोधपुर, रायपुर, और ऋषिकेश में स्थित 6 एम्स में अब CGHS के सभी सेवारत और पेंशनभोगी लाभार्थियों के लिए कैशलेस उपचार की सुविधा शुरू कर दी गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव श्री राजेश भूषण की मौजूदगी में इस महत्वपूर्ण निर्णय को लिया गया और इन छह एम्स और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के CGHS के बीच एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए।

एम्स में CGHS लाभार्थियों के लिए कैशलेस उपचार

CGHS पेंशनभोगी और अन्य कर्मचारियों को अब इन 6 एम्स में OPD उपचार, नैदानिक जांच, और अस्पताल में भर्ती होने पर कैशलेस सुविधा प्राप्त होगी। पहले एम्स में उपचार कराने वाले CGHS पेंशनभोगियों को पहले भुगतान करना पड़ता था और बाद में CGHS से प्रतिपूर्ति का दावा करना होता था, लेकिन अब उन्हें यह सुविधा सीधे कैशलेस उपलब्ध होगी।

सेवानिवृत्त पेंशनभोगियों के लिए लाभकारी

हमारे व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

भोपाल, भुवनेश्वर, पटना, जोधपुर, रायपुर और ऋषिकेश के 6 एम्स में CGHS लाभार्थियों को कैशलेस उपचार की सुविधा विशेष रूप से सेवानिवृत्त पेंशनभोगियों के लिए लाभकारी होगी, जिन्हें प्रतिपूर्ति दावों और अनुमोदनों की जटिलताओं का सामना करना पड़ता था। अब वे सीधे एम्स में अत्याधुनिक उपचार सुविधाओं का लाभ बिना किसी अतिरिक्त परेशानी के उठा सकेंगे, जिससे समय और कागजी कार्रवाई की बचत होगी।

Latest Newsफंड निकासी में होगी दिक्‍कत अगर EPF खाते में DOB या नाम है गलत तो ऐसे कराएं तुरंत ठीक

फंड निकासी में होगी दिक्‍कत अगर EPF खाते में DOB या नाम है गलत तो ऐसे कराएं तुरंत ठीक

पहल की मुख्य विशेषताएं

  1. CGHS पेंशनभोगी और अन्य श्रेणियों के लाभार्थी इन 6 एम्स में ओपीडी परामर्श, नैदानिक जांच और अस्पताल में भर्ती उपचार के लिए कैशलेस सेवा प्राप्त कर सकेंगे।
  2. ये 6 एम्स CGHS पेंशनरों और अन्य पात्र लाभार्थियों के क्रेडिट बिल सीधे CGHS को भेजेंगे और CGHS बिलों की प्राप्ति के 30 दिनों के भीतर भुगतान करेगा।
  3. एम्स में उपचार के लिए वैध CGHS लाभार्थी पहचान पत्र प्रस्तुत करने पर ही प्रवेश मिलेगा।
  4. CGHS लाभार्थियों के लिए एम्स में एक अलग हेल्प डेस्क और एक अलग लेखा प्रणाली होगी।
  5. ओपीडी उपचार के लिए या एम्स से छुट्टी के समय डॉक्टरों द्वारा निर्धारित दवाएं CGHS के माध्यम से प्राप्त की जा सकेंगी।

स्वास्थ्य सचिव की प्रशंसा

स्वास्थ्य सचिव ने इस कदम की सराहना करते हुए कहा कि CGHS स्वास्थ्य मंत्रालय का एक महत्वपूर्ण सेवा-उन्मुख वर्टिकल है, जिससे मौजूदा और सेवानिवृत्त कर्मचारी चिकित्सा सेवाओं का लाभ उठा सकते हैं। उन्होंने यह भी बताया कि निकट भविष्य में नई दिल्ली के एम्स, पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च चंडीगढ़ और जवाहरलाल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्टग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च, पुडुचेरी को भी इस समझौते में शामिल किया जाएगा।

CGHS लाभार्थियों को लाभ

श्री राजेश भूषण ने बताया कि इस समझौते से एक बड़ा वर्ग लाभान्वित होगा, क्योंकि यह चिकित्सा सुविधाओं तक पहुंच को आसान और तेजी से करने का प्रयास करता है। इससे CGHS सेवाओं की पहुंच भी बढ़ेगी, जिससे लाभार्थियों को उनके संबंधित राज्यों के एम्स संस्थानों से उपचार का लाभ मिलेगा। इसके अतिरिक्त, CGHS ने उपचार और चिकित्सा देखभाल की कुछ दरों को संशोधित किया है, जिससे रोगियों को उपचार की सुविधाओं तक पहुंचने में मदद मिली है।

Latest NewsDo not deduct commutation from the pension of pensioners after10 years pay full pension every month

10 साल बाद पेन्शनभोगियो की पेंशन से ना करें Commutation की कटौती, हर महीने दे पुरी पेन्शन

Leave a Comment

हमारे Whatsaap चैनल से जुड़ें