खुशखबरी, सभी पेन्शनभोगी ध्यान दें, सिनियर सिटीजन/पेंशनधारकों को शानदार तोहफा, एक साथ मिले कई बड़े तोहफे

केंद्र सरकार ने सीनियर सिटीजन्स और पेन्शनधारकों के लिए एक शानदार तोहफा पेश किया है। इस योजना के तहत, इन ग्रुप्स को एक साथ मिलेंगे कई बड़े तोहफे और लाभ। सभी पेन्शनभोगी इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं।

rohit

Written by Rohit Kumar

Published on

भारत सरकार के आयकर अधिनियम 1961 के अंतर्गत वरिष्ठ नागरिकों एवं सीनियर सिटीजन को कई प्रकार की छूट प्रदान की जाती है। भारत सरकार के अनुसार जिस व्यक्ति की आयु ६० वर्ष से अधिक होती है उसको वरिष्ठ एवं सीनियर सिटीजन के नाम से जाना जाता है। केवल यह ही नहीं बल्कि 80 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों को अति वरिष्ठ नागरिक कहां जाता है।

खुशखबरी, सभी पेन्शनभोगी ध्यान दें, सिनियर सिटीजन/पेंशनधारकों को शानदार तोहफा, एक साथ मिले कई बड़े तोहफे,

सीनियर सिटीजन को किस प्रकार की छूट मिलती है ?

आप सभी को यह जानकारी प्रदान कर दे की सीनियर सिटीजन को कई प्रकार की छूट प्रदान की जाती है। जिसके बारे में यहां पर जानकारी विस्तारपूर्वक बताए हुई है। जानने के लिए दी गई जानकारी को ध्यान से पढ़े

Latest NewsEPFO Pension: 58 के बजाय 60 साल के होने पर लेंगे पेंशन तो मिलेगा ज्यादा पैसा, जानिए क्‍यों?

EPFO Pension: 58 के बजाय 60 साल के होने पर लेंगे पेंशन तो मिलेगा ज्यादा पैसा, जानिए क्‍यों?

1) आयकर मे छूट:

  • सामान्य नागरिकों के लिए 2.5 लाख रुपए की सीमा है। लेकिन वरिष्ठ नागरिकों के लिए यही सीमा बढ़ जाती है और ₹3 लाख हो जाती है। वही इसके साथ साथ यह भी जान लीजिए की अति वरिष्ठ नागरिकों के किए यह सीमा ₹5 लाख रुपए है।

2) अग्रिम कर में छूट:

  • आप सभी को यह जानकारी प्रदान कर दे की वरिष्ठ और अति वरिष्ठ नागरिकों अग्रिम कर के भुगतान के लिए छूट प्रदान की गई है। लेकिन तब जब आयकर/वर्ष ₹10,000 से ज्यादा हो।

3) पेंशन पर मानक कटौती:

  • आप सभी को यह बता दे की वरिष्ठ नागरिकों को पेंशन पर 50000 रुपए की मानक कटौती भी दी जाती है।

4) चिकित्सा बीमा प्रीमियम:

  • आप सभी यह भी जान लीजिए की वरिष्ठ एवं अति वरिष्ठ नागरिकों को स्वास्थ्य बीमा प्रीमियम या फिर चिकित्सा व्यय के लिए ₹25,000 की बजाय ₹50,000 प्रति वर्ष छूट प्रदान की जाती है।

5) विकलांगता के आधार पर छूट:

  • आप सभी यह भी जान लीजिए की वरिष्ठ एवं अति वरिष्ठ नागरिकों को धारा 80 DD के अंतर्गत विकलांगता के अंतर्गत प्रति वर्ष ₹75,000 से ₹1,09,000 तक की छूट प्रदान की जाती है।

6) निर्दिष्ट बीमारियों के लिए छूट:

  • आप सभी यह भी जान लीजिए की वरिष्ठ एवं अति वरिष्ठ नागरिकों कैंसर, एड्स, पार्किंसन, डिमेंशिया आदि जेसी कई अन्य बीमारियों के इलाज के लिए 1 लाख रुपए तक की छूट प्रदान की जाती है। वही अगर बात आम व्यक्ति की करें तो यू 40 हजार रुपए तक की छूट प्रदान की जाती है।

अन्य महत्वपूर्ण लाभ

1. आयकर रिटर्न दाखिल करना:

  • आप सभी को यह बता दे की वरिष्ठ नागरिकों को कागज पर आयकर रिटर्न दाखिल करने की अनुमति प्रदान की जाती है। वही सामान्य व्यक्ति के लिए ई – फीलिंग करना अनिवार्य है।

2. ब्याज आय पर छूट:

  • आप सभी को यह बता दे की वरिष्ठ नागरिकों आयकर अधिनियम धारा 80 TTA के अंतर्गत डाकघर से मिलने वाली इनकम पर 50 हजार रुपए प्रति वर्ष छूट प्रदान की जाती है।

3. फॉर्म नंबर 15 H का उपयोग:

  • आप सभी को यह बता दे की वरिष्ठ नागरिकों को RD, FD, लाभांश, पेंशन या फिर किसी अन्य किसी निवेश के जरिए आई आय पर बैंक से TDS (स्रोत पर कर कटौती) का दावा करने के लिए वे फॉर्म नंबर 15 H का उपयोग कर सकते हैं।

4. आयकर रिटर्न से छूट:

  • आप सभी को यह बता दे की वरिष्ठ नागरिकों की आय का श्रोत केवल पेंशन या फिर या फिर जमा की हुई राशि का ब्याज है तो उन्हें बैंक द्वारा आयकर कटौती के लिए जिम्मेदारी होगी। इसके साथ साथ आप सभी को यह भी बता दे की जिन नागरिकों की आयु 75 वर्षों से अधिक है। उन सभी नागरिकों को आयकर रिटर्न दाखिल करने से मुक्ति प्रदान की गई है।

5. रिवर्स मॉर्गेज पर छूट

  • आप सभी को यह बता दे की वरिष्ठ नागरिकों को प्रॉपर्टी के रिवर्स मॉर्गेज को कैपिटल लाभ में शामिल नहीं किया जाएगा और इसे आय में शामिल करने की छूट दी जाएगी।

Latest News7th Pay commission: लंबे समय के बाद सातवें वेतन आयोग की बडी सिफारिश लागू, लाखों कर्मचारियों को मिली बड़ी सौगात, सरकार ने जारी किया आदेश।

7th Pay commission: लंबे समय के बाद सातवें वेतन आयोग की बड़ी सिफारिश लागू, लाखों कर्मचारियों को मिली बड़ी सौगात, सरकार ने जारी किया आदेश।

2 thoughts on “खुशखबरी, सभी पेन्शनभोगी ध्यान दें, सिनियर सिटीजन/पेंशनधारकों को शानदार तोहफा, एक साथ मिले कई बड़े तोहफे”

  1. मोदी ने आज तक भारत के नागरिकों या पेंशन भोगियों के लिए 10 साल में नुकसान करने के अलावा नागरिकों को नुक्सान ही दिया है तो अब विश्वास नहीं किया जा सकता कि मोदी कभी आम जनता या वरिष्ठ लोगों को लाभ का कोई काम कर सकता है अरे 10 साल में जितना इसने, रेलवे आदि में मिलने वाले छूट को वरिष्ठ नागरिकों को लूटा है 10 साल पुनः यदि बहाल भी कर दे तब भी इसने 20 साल भारत के वरिष्ठ नागरिकों को पीछे ढकेल दिया।

    प्रतिक्रिया

Leave a Comment

हमारे Whatsaap चैनल से जुड़ें